एक नजरिया जो की Opportunity को पहचान सकें, सोचों और कर डालो

loading...

एक नजरिया जो की Opportunity को पहचान सकें

opportunity in hindi

सभी जानते हैं कि जीवन में कुछ समय ऐसा जरूर आता हैं, जिन पर भावी वर्षों का भाग्य निर्भर करता है. यदि हम उन क्षणों मेे चुक जाते है तो हम अनुमान भी नहीं लगा सकते कि हमने कितने महीने और कितने वर्ष खो दिये.

क्या Opportunity आपके द्वार पर भी नहीं खडी है ? नीचे के Example देखिए- अक्सर : अधिक ठंडे देशो में दस्ताने ‘Gloves’ पहनने का आम रिवाज है. दस्ताने बनाने वाली बहुत सी कंपनियां विभिन्न प्रकार के दस्ताने बनाती है, पर दस्ताने बांधने के संबंध में किसी ने विशेष ध्यान नहीं दिया था. एक व्यक्ति ने दस्ताने बांधने के experiment को patent करवा लिया और उसी से कहीं हजार pond कमा लिये.

न जाने कब से बालों में पिन लगाने की प्रथा चली आ रही है. एक स्त्री ने बालो में लगाये जाने वाले पीन को सिर में टिका रहने के लिए थोडा मरोडकर लगाया.

उसके पति ने यह बडे ध्यान से देखा और experience किया कि मुडा हुआ पिन सिर में अधिक देर तक टिका रह सकता है. बस उसने उसी प्रकार मुडे पिनों का निर्माण प्रारंभ कर दिया. और कुछ ही वर्षो में अपार धन कमा लिया.

सोचों और कर डालो – जरुरत हैं तो सिर्फ एक नजरिये की जो opportunity को identify कर सके

दुनिया में ऐसे लोग बहुत कम हैं जो किसी चीज को भली-भांति देखने की शक्ति रखते हैं और देखने के बाद निश्चय भी कर लेते है कि अच्छी और लाभप्रद चीज क्या है? अधिकतर लोग तो देख ही नहीं पाते और यदि उन्हें कुछ आभास होता भी है तो भी उन्हे इस बात का ज्ञान नहीं होता कि अवसर देखकर पकड लें।

ऐसे व्यक्तियों की तो और भी कमी है, जो विचारों को कार्यरूप में परिणत कर सके। यही वह गुण हैं जो किसी भी काम में निर्णायक भूमिका अदा करता है।

George Eliot ने अपनी एक कविता में कहा है- उस व्यक्ति के लिए अवसर का क्या महत्व हैं जो उसका उपयोग ही नही करना जानता। अल्बामा नगर में एक गुलाम रहता था जिसका नाम John night था। जब गुलामेां को आजादी मिली तो वह एक फर्म के साथ बंदरगाह में माल ढोने का काम करने लगा। उसने देखा कि एक फर्म मध्य America में फलों का व्यापार करती है।

Also Read – असफलता को सफलता में कैसे बदलें
उस मजदुर ने काम करते समय यह विचार किया कि मैं भी फलों का काम करूं तो मेरा भी भविष्य future सुधर सकता है। उसने अपने thoughts को Implemented कर दिखाया ।

विचारों को कार्यरूप में परिणत करने का गुण बहुत आवष्यक है। संसार के किसी भी कोने में किसी भी बडे नगर में जाकर पूछें कि इस नगर में ऐसा कौन सा व्यक्ति है जो व्यापार में लगा है।

जिस पर राष्ट्र की उन्नति आश्रित है। तो आपको सब जगह यही पता चलेगा कि सफल व्यक्ति वही हैं जो देखते हैं विचार करते है। तथा विचार की हुई बात को कार्यरूप में परिणत करते है।

Success ऐसे ही लोगों के चरण चुमता है। ऐसे ही व्यक्तियों के कंधों पर राष्ट्रों की उन्नति आधारित होती है। मानसिक गुणों के विश्वास के संबंध में कुछ भी कहा जाये परंतु देखने, समझने और विचार को कार्यरूप में परिणत करने की योग्यता व्यक्तित्व का अनिवार्य गुण है।

जिन व्यक्तियों मे यह महान गुण होता है वही योग्य एवं संपन्न होते है। विभिन्न व्यक्तियों में विभिन्न कार्य करने की शक्ति होती हैं परन्तु विचारों को कार्यरुप मे परिणत करने का मूल सिद्धांत एक ही होता है |

नमस्ते दोस्तों हमसे Facebook पर जुड़ने के लिए यहां क्लिक करे. हमारा Group Join करे और Page Like करे. "Facebook Group Join Now" "Facebook Page Like Now"
loading...

Leave a Reply

error: Please Share This but dont Copy & Paste.