Best Stories of Sheikh Chilli, शेखचिल्ली की कहानियाँ

कौन थे शेखचिल्ली

sheikh chilli story hindi

मूर्ख और कामचोर लोगों की चर्चा हो रही हो और शेखचिल्ली का जिक्र न हो, यह कैसे हो सकता हैं | वेसे तो शेखजी को सभी जानते हैं | लेकिन जो लोग नहीं जानते, उन्हें हम बता दें की शेखचिल्ली अपने समय के महामूर्ख थे | बहुत समय पहले एक छोटे-से गाँव में शेखचिल्ली का जन्म हुआ था | उनके जन्म के कुछ वर्षो बाद ही उनके अब्बा का निधन हो गया |

वे आर्थिक रूप से निर्धन थे |  उनका घराना शेखो को घराना कहलाता था, इसलिए उनकी माँ ने उनका नाम शेख रखा था | अब सवाल यह पैदा होता हैं की उनके नाम के साथ ‘चिल्ली’ शब्द कैसे जुड़ा? एक दिन उनके दोस्तों ने उनको बाहर खेलने के लिए कहा तो उन्होंने कहा–

में नहीं जाऊंगा, मेरी माँ कल मुझ पर “चिल्ली” रही थी |” उनके इस शब्द को सुनकर उनके साथी बहुत हँसे और उन्हें ‘चिल्ली-चिल्ली’ कहकर चिढ़ाया, तभी से उनके नाम के साथ चिल्ली शब्द जुड़ गया | 

शेखजी अपने मित्रों के साथ मौंज मस्ती किया करते थे, उन्हें घर की कोई परवाह नहीं रहती न कोई काम धंधा करते थे | उनहीं तो केवल दो वक्त का भोजन और मित्र मंडली का साथ चाहिए था |

बाकी चिंजो से उन्हें कोई सरोकार नहीं था | उनके साथ घटित मनोरंजक घटनाओ को हमने यह संग्रह किया हैं |

* शेख जी की कहानियों का संग्रह – 

शेख चिल्ली की कहानियां

—Sheikh chilli Stories

Also Read : 

loading...

Leave a Reply

error: Please Share This but dont Copy & Paste.