Top 6 Sardi Jukam Ke Liye Dawa – Homemade Cold Medicine

Sardi Jukam Ke Liye Dawa Best Cold Medicines

Homemade medicine for cold in hindi – आज के समय में सर्दी जुकाम होना एक सामान्य सी बात हो गई हैं. एक समय था जब सर्दी जुकाम सिर्फ सर्दी के मौसम में हुआ करता था लेकिन बदलते दौर में आज ऐसा समय आ गया हैं की ज्यादातर व्यक्तियों को बेमौसम ही सर्दी जुकाम हो जाता हैं.

ऐसे बहुत से व्यक्ति होते हैं जिन्है एलर्जी के वजह से भी जुकाम हो जाता है. उनके लिए हमारी सलाह यही होगी की अगर आपको यहां बताई जा रही sardi jukam ki tablets, capsules, dawa, से लाभ न हो तो बेहतर यही होगा की आप किसी Doctor को दिखाए ताकि आपकी allergic (सर्दी) cold का permanent treatment हो सके.

पढ़िए सर्दी जुकाम के लिए मेडिसिन दवा के बारे में. जो की कुछ ही दिनों में आपको सर्दी से छुटकारा दिल देंगी (tablets names list indian)

और दूसरी वजह होती हैं “बदलते मौसम” आज का पर्यावरण ऐसा हो गया हैं जैसे की इंसान का मूड़. जिस तरह इंसान का मूड़ कभी भी बदल जाता हैं अब ठीक वैसे ही मौसम भी हो गया हैं. दिन में तेज धुप तो रात को ठण्ड, दिन में ठण्ड रात को गर्मी और ज्यादातर तो अब बेमौसम बरसात होने लगी हैं. ऐसे बदलते पर्यावरण से हमारे मानवी शरीर पर भी बहुत नकारात्मक असर पढता हैं.

क्योंकि जब एक दिन में 24 घंटे में ही मौसम में कई परिवर्तन हो जाते हैं तो इतनी जल्दी हमारा शरीर इस परिवर्तन (Changes) को Adjust नहीं कर पाता, और फिर इसी वजह सर्दी जुकाम हो जाता हैं.

हमें भुखार भी इसी वजह से आता हैं – जब हमारे शरीर में मौजूद शारीरिक वातावरण नियंत्रण करने वाली प्रणाली ठीक से काम नही कर पाती तो बुखार हो जाता हैं.

सर्दी जुकाम होने के और भी बहुत सी वजह हो सकती है. और फिर चाहे सर्दी किसी वजह से होती हो इससे बचने के लिए सर्दी जुकाम की दवा (मेडिसिन) का उपयोग तो करना ही पढता हैं.

Top Medicine For Cold Sardi Jukam Ki Ayurvedic Desi Dawa

sardi jukam ki dawa, sardi ki dawa, jukam ki dawa

Best Homemade medicines

हम आपको Medical medicine के साथ-साथ जुकाम की आयुर्वेदिक दवा (medicine) के बारे में भी बताएंगे जो की सर्दी के लिए रामबाण होगी.

Cold medical medicine – सर्दी के लिए आप मेडिकल दवा को बड़ी आसानी से किसी भी Medical stores पर खरीद सकते हैं. क्योंकि सर्दी जुकाम ऐसा आम रोग हैं जो की सभी को होता हैं. और पूरी दुनिया में ऐसा कोई सा Medical stores नहीं होगा जहां पर सर्दी जुकाम की दवा न मिलती हो.

इसलिए हम यहां पर Knowledge के लिए कुछ medicines के नाम जरूर बता देते हैं ताकि आपको emergency में जरुरत पढ़ने पर यह काम आ सके.

  • D Cold Tablets and Syrup
  • Z Cold medicine
  • Crocin Gold and Flu
  • Disprin Cold Tablet
  • Syncet
  • Koldroid
  • Cough and runny nose
  • Vicks
  • AviCold Syrup
  • Coldex Syrup

यह रही Medical cold tablets names list india. अब हम आपको जुकाम की देसी दवा और आयुर्वेदिक दवा मेडिसिन के बारे में बताएंगे. इनके प्रयोग से आप जुकाम का घरेलु इलाज कर सकते हैं जो की बिलकुल Free of cost होता हैं.

आपको यह तो पता ही होगा की Medical tablets हमारे शरीर को फायदे के साथ-साथ नुकसान भी पहुंचाती हैं. इससे ठीक उलटे आयुर्वेदिक दवा (घरेलु नुस्खे) ऐसा कोई सा भी नुकसान नहीं पहुंचाते और बल्कि लाभ ही देते हैं.

Lahsun Ki Ayurvedic Dawa

जब बात आती हैं सर्दी जुकाम से प्राकृतिक तरीके से छुटकारा पाने की तो पहला नाम आता है लहसुन का. ऐसा माना जाता है की लहसुन Cold medicines से भी ज्यादा effective होता हैं. क्योंकि इसमे anti-bacterial, anti-viral anti-protozoal और anti-fungal properties होती हैं. यह सर्दी से जुड़े सभी रोगों से छुटकारा दिलाता हैं.

3-4 लहसुन को अंगारे (जली हुई लकड़ी के टुकड़े) पर सेंक कर खाने से सर्दी और खांसी दोनों में बहुत फायदा होता हैं. 3-4 दिन तक इसका नियम से रोजाना उपयोग करे. Caution – इसको खाने के बाद 2 घंटे तक पानी न पिए नहीं तो यह शरीरी पर नकारात्मक असर कर सकता हैं. (इसलिए लहसुन को रात को सोने से पहले ही खाये).

  • लहसुन का बच्चों की सर्दी के लिए उपाय

लहसुन का बच्चों के लिए इस तरह प्रयोग करे – 6-7 लहसुन की कलियों को छीलकर एक रस्सी में इनको पिरो दें. यानी लहसुन की कलियों की माला बनाये. फिर इसे बच्चे को पहना दें, इससे बच्चे को सर्दी जुकाम खांसी आदि से हमेशा के लिए आराम मिलेगा.

Sardi Ke Liye Adarak Ki Desi Dawa

अदरक का आयुर्वेदा में सर्दी जुकाम और खांसी से जल्दी से छुटकारा पाने के लिए बहुत प्रभावकारी माना जाता है, इसका उपयोग कई सालों से किया जाता आ रहा है. इसमे ऐसे बहुत से गुण होते हैं जो की सर्दी जुकाम करने वाले Bacteria, Virus को ख़त्म करते हैं.

यह खांसी और जुकाम के लिए 100 percent effective ayurvedic medicine है. हम आपको Personally यह recommend करते हैं की आप अदरक के यहां बताये जा रहे उपाय से सर्दी जुकाम का घरेलु इलाज करें.

अदरक को बारीक पीस लें, इसके रस को शहद में मिलाये दोनों को Mix कर के रोजाना रात को सोने से पहले खाये. (इसको खाने के बाद 1-2 घंटे तक पानी बिलकुल भी न पिए). अगर आपको ज्यादा सर्दी जुकाम हो रहा हो तो आप इस घरेलु दवा का उपयोग दिन में 3 बार भी कर सकते हैं सुबह, दुपहर और रात को. और अगर आप चाहे तो दिन में एक बार भी कर सकते हैं. यह आपकी सर्दी के ऊपर निर्भर करता हैं.

रोजाना जब भी आप चाय पिए तो उसमे अदरक का उपयोग जरूर करें. खासकर सर्दी के मौसम में अदरक की चाय ही पीना चाहिए. यह शरीर में गर्मी बनाये रखती है और सर्दी खांसी से भी बचती हैं.

Shayad Honey (sardi dur kare)

सेहत बनाने के लिए शहद प्रक्रति का दिया हुआ अमृत हैं. शहद हर तरह की बीमारी में किसी न किसी तरह से लाभ देती हैं. सर्दी होने पर आप शहद का उपयोग इस तरह कर सकते हैं. एक चम्मच शहद लें और एक चम्मच निम्बू का juice लें. दोनों को आपस में मिलाकर पिजाए. इसमे भी सर्दी जुकाम को दूर करने वाले गुण होते हैं इसीलिए इसे जुकाम की आयुर्वेदिक दवा में बताया गया हैं.

Tulsi leavse (तुलसी के पत्ते)

तुलसी जिसे हिन्दू धर्म में पूजा जाता हैं यह भी शहद की तरह हर एक रोग से छुटकारा दिलाने के लिए काफी होती हैं. इसको आयुर्वेदा में मानसिक शांति और मानसिक क्षमता बढ़ाने की दवा के रूप में भी बताया गया हैं. क्योंकि तुलसी की पत्तियों मैं anti-bacterial, anti-fungal और anti-inflammatory properties होती हैं जो की सर्दी जुकाम और खांसी सहित fever, flu, swine flu, bronchitis, malaria, headache और गले की खराश जैसे रोग में बहुत फायदा करती हैं.

  • तुलसी के 10-12 पत्ते लें और उन्हें एक गिलास पानी में दाल दें, इसमे थोड़ी से शक्कर भी मिला लें. (यानी तुलसी के पत्तों की चाय बनाना होती हैं) पत्ते मिलाने के बाद इसे अच्छे से उबाल लें और फिर पत्तों सहित इस चाय को पि जाए. (तुलसी के पत्ते हमेशा शाम होने से पहले ही तोडें)
  • अगर आप सर्दी और खांसी से हमेशा के लिए दूर रहना चाहते हैं तो रोजाना चाय में तुलसी के पत्ते या लौंग जरूर डालें. यह आपको बहुत अच्छी सेहत देंगे.

Sardi Ke Liye Haldi Ka Asarkari Upay

हल्दी दूसरी ऐसी आयुर्वेदिक दवा हैं जो की सर्दी खांसी के लिए रामबाण होती है. यह बहुत ही असरकारी व प्रभावकारी होती हैं. अगर आप अदरक का प्रयोग नहीं कर सकते तो इसका उपयोग जरूर करे. यह खांसकर खांसी को ख़त्म करने में असरकारी होती इसके साथ ही सर्दी में भी फायदेमंद होती हैं. क्योंकि इसमे भी एक cold medicine और tablets के बराबर गुण होते हैं, इसलिए हल्दी को भी आप सर्दी जुकाम की आयुर्वेदिक दवा के रूप में उपयोग कर सकते हैं.

थोड़ी हल्दी लेकर उसे रोटी बनाने के तवे पर सेंक कर खाने से खांसी और सर्दी में बहुत फायदा होता हैं. हल्दी के साथ ही 1 ग्लास पानी को भी कुन-कुना यानी हल्का गरम कर लें और इसका हल्दी खाते समय उपयोग करे. (इस गरम हल्दी को पिने के लिए सामान्य पानी को उपयोग न करे). सिर्फ 3-4 दिन के प्रयोग से ही आपको सर्दी खांसी में बहुत आराम महसूस होने लगेगा.

अब सर्दी के इलाज के लिए यह आप पर depend करता हैं की आप cold medicine और tablet का use करते हैं या फिर बताई गई jukam or sardi ki dawa का. हम तो यही कहना चाहते हैं की अगर आप आयुर्वेदिक नुस्खे पर जरा भी भरोसा करते हैं तो बताये गए सर्दी जुकाम के लिए आयुर्वेदिक दवा का उपयोग जरूर करे.

खासकर हमने जो अदरक का नुस्खा बताया उसका उपयोग जरूर करे. यह हमारी नजर में सर्दी जुकाम दूर करने के लिए सबसे ज्यादा असरकारी होता हैं. सिर्फ 3-4 दिन के प्रयोग से आपको बहुत आराम हो जाएगा.

loading...

2 Comments

  1. radhika
  2. Arvind Kumar Gangwal

Leave a Reply

error: Please Share This but dont Copy & Paste.