माँ से बढ़कर कोई प्रेम नहीं कर सकता – एक झूट से बढ़कर और कुछ नहीं

The Fake Love Of Our Parents

सभी लोग कहते हैं की इस दुनिया में माँ से बढ़कर कोई प्रेम नहीं कर सकता, लेकिन यह एक झूट हैं | अगर ऐसा होता तो एक माँ सिर्फ अपने बच्चों से ही प्रेम क्यों करती हैं, उसे दूसरों के बच्चों पर प्रेम क्यों नहीं कर सकती – मेरी नज़रों में माँ-बाप दुनिया के सबसे बड़े स्वार्थी होते हैं – क्यों ????

क्योंकि – एक माँ अपने बच्चों को प्रेम करती हैं, क्योंकि वह उसकी संतान हैं,
एक मां अपने बच्चों को प्रेम करती हैं, क्योंकि वह उसके गर्भ में 9 महीनो तक रहा |

मां बाप अपने बच्चों को प्रेम करते हैं, क्योंकि वह उनका भविष्य हैं, वह उनकी संपत्ति का वारिस हैं, माँ बाप अपने बच्चे को प्रेम करते हैं क्योंकि वह उनका एक हिस्सा हैं | इस तरह एक नजरिये से माँ बाप खुद को ही प्रेम करते हैं- क्योंकि बच्चे को उन्होंने पैदा किया वह उनका ही तो हैं |

और मां बाप तो ये भी चाहते हैं की उनके बच्चे उनका नाम करें, उनकी इच्छाएं जो उनसे पूरी न हुई वो अपनी संतान से करवाना चाहते हैं |
यह कोई प्रेम नहीं, यह मात्र एक लें देन हैं – अगर माँ बाप असली प्रेम करते तो वह सिर्फ अपने बच्चों को ही प्रेम क्यों करते क्या और के बच्चे बच्चे नहीं होते –

 Comments के जरिये इस लेख पर अपने विचार जरूर दें —
Also Read : 

loading...

Leave a Reply

error: Please Share This but dont Copy & Paste.