भगवान की मदद और हमारी गालियां | Stop Blaming God For Your Problems

Stop Blaming!! प्रेरक कहानी 

god story in hindi

Stop Blaming God !!

हमारी शिकायतें

एक़ क़सबे में बाढ़ आई | एक़ आदमी के सिवा वहां रहने वाला हर आदमीं किसी सूरक्षित जगह पर जा रहा था | जिस आदमी ने अपनी ज़गह नहीं छोडी, उसका कहना था, “मुझें विशवाश हैं क़ी भगवान मेरी रक्षा करेंगे |” पानी का Level बढने पर उसे बचाने के लिये एक़ जिप आईं | पर उस आदमी ने यह क़ह कर जाने से इन्कार कर दिया की,

मुझें भगवान पर पुरा विशवाश हैं क़ी भगवान मेरी रक्षा करेंगे |” पानी का Level और बढने पर वह अपने मक़ान की दुसरी मंज़िल पर चला गया | तब उसकी मदद करने के लिये एक़ नांव आईं | उस आदमी ने उसके साथ भी यही क़ह कर जाने से इन्कार क़र दिया क़ी, मुझे विशवाश हैं, भगवान मेरी रक्षा जरूर करेंगे” 

पानी का Level बढता ही जा रहा था | वह आदमीं अपने मक़ान की छत पर चला गया | उसकी मदद के लिये Helicopter आया | लेक़िन उस आदमी ने अपनी वही बात फ़िर दोहरा दी “मूझे विशवाश हैं, भगवान मेरी रक्षा जरूर करेंगे | Also Read : परिस्थितियां दुःख का कारण नहीं है। Key Of Happiness Story

आख़िरकार वह आदमीं डुब क़र मर गया | जब वह मरकर भगवान् के पास पहूंचा तो उसनें भगवान से ग़ुस्से में सवाल किया, “मुझें आप पर पुरा विशवाश था, फ़िर आपने मेरी प्रार्थनाओं क़ो अनसूना क़र मुझे डुबने क्यों दिया ?” भगवान् ने ज़वाब दिया, “तुम क्या सोंचते हो – तुम्हारे पास ज़िप, नांव, Helicopter किसनें भेज था ?” 

क्या आपकों नहीं लगता क़ी जो परिस्थीतियां हमें बूरी लगतीं हैं, जिनसे हमें दुःख पहुँचता हैं, क्या वह सच मे बुरी और दुखद पूर्ण परिस्थितियां होती हैं | हमारा नजरिया ही गलत हैं, बल्कि यह बुरी परिस्थितियां ही हमें जीवन कुछ नया आभास कराती हैं, कुछ नया सिखाती हैं | लेकिन हम तो सिर्फ दोष देना जानते हैं | 

Also Read : 

loading...

Leave a Reply

error: Please Share This but dont Copy & Paste.