मानो मत ‘जानो – Short Spiritual Story with morals

Wake Up !!

mano mat jano osho

Master Osho Rajneesh

एक सेठ के घर में चोर घुस गया | कमरे में कुछ खड़खड़ की आवाज़ हुई तो सेठानी चौंक उठी | उसने अपने पति को जगाकर कहा – मुझे ‘लगता है की अपने घर में कोई चौर घुस आया है |’ सेठ ने कहा – हाँ-हाँ जरूर आया होगा, रात के समय और कौन आ सकता है ?’

यह कहकर उसने चादर सिर तक तान ली | सेठानी ने दरवाजे के छिद्र में से देखा – चौर ने तिजोरी खोल ली है और रुपये और जेवर आदि कपडे में बाँध रहा है | सेठानी ने पति से कहा – ‘जल्दी उठो, उसने सारी संपत्ति कपडे में बाँध ली है |’

सेठ बोला – ‘में जनता हूँ, वह आया है, तो कुछ लेकर ही जाएगा |’ सेठानी बोली – ‘हम लूट गए हैं |’ सेठ ने कहा – में जनता हूँ, मगर अब कोई उपाय भी तो नहीं हैं |’ इस बार सेठानी को आवेश आ गया | बोली – ‘तुम बस जानते ही रहो | अब मुझे ही कुछ करना पड़ेगा |’

वह दौड़कर घर के मुख्य द्वार पर पहुंचकर जोरों से चिल्लाई -‘बचाओ! बचाओ! चौर-चौर !’ चौर डरकर गठरी को वहीँ फेंक कर भाग खड़ा हुआ | सेठानी ने गठरी अंदर लेकर पति से कहा -‘मैंने चौर को भगा दिया हैं |’ सेठ उठकर बोला- में जानता था तुम कमरे से बाहर गई हो तो बचाव का कुछ-न-कुछ उपाय करके ही आओगी |’

सेठानी ने अपना सिर थाम कर कहा- ‘जानते थे तो फिर साथ क्यों नहीं दिया ?’ इसी तरह आज हम सब जानते हैं, लेकिन ज्ञान को आचरण में उतार नहीं पाते | ज्ञान केवल जान लेने मात्र से कुछ भी लाभ होने वाला नहीं हैं | उदाहरण के तौर पर, ‘हम सर्प को भी जानते है, इसलिए उसके मुह के तो क्या पूंछ को भी हाथ नहीं लगाते |

बिच्छू के स्वाभाव से परिचित होने के कारण हम उसे अपनी जेब में रखकर नहीं घूमते, क्योंकि हमें यह ज्ञान है की ये विषैले जीव हैं | हम स्वप्न में भी इन्हें पकडने की भूल नहीं करते |

Also Read : जीवन के ऊपर आध्यात्मिक सुविचार

आज हमारे तन में जितने रोग नहीं हैं, उससे कहीं अधिक रोग हमने अपने मन में पाल रखे हैं | हमारा चिंतन सकारात्मक कम और नकारात्मक अधिक हो गया है | जीवन की यह मस्ती ही जीवन की कश्ती को डुबो देगी | अभी हमारे पास समय है | हम जागें, अंधकार से बाहर निकलें और जीवन को संवारने का प्रयास करें |

Must Read : 

नमस्ते दोस्तों हमसे Facebook पर जुड़ने के लिए यहां क्लिक करे. हमारा Group Join करे और Page Like करे. "Facebook Group Join Now" "Facebook Page Like Now"
loading...

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Please Share This but dont Copy & Paste.