दालचीनी के अचूक फायदे और लाभ – Top 21 Cinnamon Benefits in Hindi

Top Dalchini Ke Fayde Cinnamon Benefits in Hindi

dalchini ke fayde in hindi, dalchini ke nuskhe labh

All top cinnamon benefits in hindi दालचीनी के बहुत से उपयोग होते हैं जिनसे आप बहुत सी बिमारियों से छुटकारा पा सकते हैं. जैसे पेट दर्द, मानसिक क्षमता, मासिक धर्म, खुनी पित्त, अपच, बुखार आदि बहुत सी बिमारियों में दालचीनी से इलाज कर सकते हैं. तो चलिए आगे पढ़ते हैं दालचीनी के लाभ अचूक फायदे के बारे में.

दालचीनी – Cinnamon

Cinnamon powder benefits – मौसमी बीमारीयां दालचीनी के रोजाना के प्रयोग से दूर रहती है. इन्फुांजला, मलेरिया, गला बेठने पर दालचीनी का पावडर चौथाई चम्मच एक ग्लास पानी में उबालें और चुटकी भर काली मिर्च और शहद मिलाकर पीयें.

Dalchini Khane Ke Fayde Top 21 Cinnamon Benefits Hindi Me

cinnamon powder benefits in hindi

  • स्मरणशक्ति मानसिक तनाव के लिए (Mansik Tanav+SmaranShakti)

रात को सोते समय नियमित रूप से एक चुटकी दालचीनी पावडर के साथ लेने से फायदे हेाते हैं. इसे सूंघने से भी बहुत फायदे होते हैं.

  • स्तन में फोड़ा फुंसी होने पर

Dalchini ke fayde – 10 ग्राम कालीमिर्च, 20 ग्राम दालचीनी पीसकर मिलाकर इसकी आधी चम्मच, एक चम्मच शहद में मिलाकर रोजाना तीन बार चाट लें.

  • मासिक धर्म नहीं आने पर

पिसी हुई दालचीनी एक चम्मच रोजाना एक बार सुबह पानी के साथ लें. किसी-किसी को इससे पेटदर्द हो जाता हैं. पेट दर्द होने पर इसमें मुंग की दाल के बराबर हींग मिलाकर खालें. ध्यान रखें – गर्भिणी महिलाएं इसका उपयोग न करें. dalchini ke benefits in hindi me.

  • परिरक्षक होती हैं दालचीनी

दालचीनी भोजन को प्राकृतिक रूप से रखने की परिरक्षक है. भोज्य पदार्थों मे इसे मिलाने से बैंक्टेरिया, इकोली बैक्टेरिया पैदा नहीं होते और खाना खराब नहीं होता.

  • खुनी पित्त की शिकायत (Bloody bile)

दालचीनी शहद के साथ लेने से खुन में पित्त की मात्रा सामान्य रहती है। यह दर्दनाशक होता है.

  • प्यास अपच और बुखार (Indigestion, Fever & Thirst)

अगर इन सब के कारण मूंह सुखता हो और प्यास ज्यादा लगती होतो दालचीनी का टुकडा चुसें.

  • त्वचा सौंदर्य बढ़ाने के लिए (Cinnamon For Skin Care)

बुढापें में रक्त वाहिनीयों की कडक कार्यक्षमता और शक्ति कमजोर होने लगती है, त्वचा मं झुर्रिया बड जाती है, त्वचा ढीली हो जाती है, समान मात्रा मं दाल चीनी और लोंग पीसकर मिलाकर इसकी चौथाई चम्मच रोजाना चाटें। दालचीनी पर पानी डालकर पीसकर चहरे पर लगायें.

  • शक्तिवर्धक होती हैं दालचीनी (Increase Your Immune System)

उपर बतायें प्रयोगों से शरीर में स्फुर्ति बनी रहेगी, मानसिक कार्य करने से थकावट नहीं होगी, खून शुद्ध होगा चेहरे पर कांति रहेगी. रात में एक गिलास दूध में पीसी दालचीनी और शहद मिलाकर पीने से शक्ति बडती है, रक्त के सफेद कण बडते है.

cinnamon benefits in hindi

Dalchini Ke Nuskhe Cinnamon Home Remedies

  • पेट के घाव ठीक करे (Abdominal wound)

एक चम्मच शहद में चौथाई दाल चम्मच मिलाकर चाटने से पेट के घाव ठीक हो जाते हें.

  • दस्त बंद करें (Stop Diarrhea)

दालचीनी और कत्था (पनवाडी जिसे पान में लगाता है) समान मात्रा में पिसकर मिला लें, इस मिश्रण की चौथाई चम्मच चांवल की खिल 10 ग्राम पीसी हुई आधा कप पानी चिनी और अपने टेस्ट के हिसाब से नमक मिलाकर रोजाना तीन बार पीयें। दस्त बंद हो जायेगे.

  • कब्ज दूर करने के तरीका (Acidity)

20 ग्राम दालचीनी, 100 ग्राम मोटी सौंफ 10 ग्राम छोटी इलायची इन सबको पीसकर मिलाकर रोजाना रात को आधा चम्मच गर्म पानी से फाक लें.

  • सांस की बदबू दूर करें (Mouth Freshener)

अगर सास की बदबू से परेशान हो तो दालचीनी दो गिलास पानी में उबाले इसे छानकर बोतल में रख दें और रोजाना इस पानी से दो कुल्ले करें.

  • पेशाब के विकार, पेशाब में मवाद कोषिकाएं (Urine Problems)

आधा चम्मच दालचीनी के पानी से रोजाना 3 बार फांक लें। दालचीनी मूत्राशय को साफ रखती है.

  • लकवा, तंत्रिका के रोग (Paralysis Nerve disease)

Cinnamon powder uses – रोजाना दिन में तीन बार दालचीनी पावडर को गर्म पानी के साथ लेंने से लकवा और तंत्रिका के रोग में लाभ होगा.

  • Typhoid मोतीजरा बुखार

सुबह-शाम एक चम्मच शहद में चौथाई चम्म्मच दाल चीनी मिलाकर चाटने से Typhoid जैसे संक्रामक रोगों से बचाव होता है.

  • ज्वर (बुखार ठीक करे)

2 कप पानी में चाय की पत्तियां, चौथाई चम्मच दालचीनी और सोंठ डालकर उबालकर आधा पानी रहने पर छानकर रोजाना 2 बार पीयें ज्वर में लाभ होगा.

  • Heart Attack का ख़तरा काम करेगा

शहद और दालचीनी से Cholesterol को स्तर कम होता हैं जिससे Heart Attack का खतरा कम हो जाता है। दालचीनी खुन के थक्के नही जमने देती है.

  • पेट के रोग दूर करें (Diseases of the stomach)

दालचीनी, सोंठ छोटी इलायची के दाने समान भाग में पिसकर मिलाकर चौथाई चम्मच पानी से रोजाना दो बार लें. आंव भूख की कमी दूर होगी। यह किटाणुओं को नाश भी करेगी.

दाल चीनी छोटी इलायची के दाने, और तेज पत्ता सबकों पीसकर मिला लें, खाना खाने से पहले चौथाई चम्मच शहद में मिलाकर चाटें इससे आंव आना बंद हो जायेगी। भूख लगेगी, जी मचलना और उल्टी नहीं होगी.

दांतो के रोग ख़त्म करे (Care For Teeth)

दालचीनी का मंजन करें, अन्य मंजन में भी मिला सकते हैं. पानी उबालकर कुल्ले करें दातों के रोग दूर होंगे.

  • जुकाम इन्फलुएंजा (Common Cold)

पिसी दालचीनी, चैाथाई चम्मच आधा चम्मच मिश्री, में मिलाकर रोजाना तीन बार गर्म पानी से लें जुकाम खत्म हो जायेगा.

  • दर्दनाशक होता हैं दालचीनी (Painkillers)

कहीं भी दर्द हो सुजन, सिरदर्द, पेट दर्द, जोडो का दर्द होतो आधा चम्मच दाल चीनी दो चम्मच शहद और पानी मिलाकर मालिष करें. लेप करें. एक कप गर्म पानी में चौथाई चम्मच दालचीनी दो चम्मच शहद मिलाकर रोजाना पीयें. (दालचीनी के फायदे लाभ हैं)

  • दमा, अस्थमा को भी ठीक करे (Asthma)

इनके रोगी रात को सोने से ठीक पहलें एक चमच शहद में आधा चम्मच दालचीनी मिलाकर चाट लें आराम मिलेगा. यह प्रयोग सर्दी केे मौसम में ज्यादा फायदेंमंद होता है. इससे खांसी भी कम होती है। और कफ भी पिघलकर आसानी से निकल जाता है.

  • Diabetes के रोगियों के लिए

दालचीनी इंसुलीन और रक्त शर्करा को नियंत्रित करती है कम करती है. भूख को ठीक करके खाना पचाती है. हाइपोथालमस हार्मोन को ठीक करती है. सर्दी के मौसम में चाय में दाल चीनी डालकर रोजाना पियें. इससे शरीर में गर्मी रहेगी.

डायबिटीज टाइप टू में लोगों को इन्सुलिन का प्रभाव बहुत कम होता है. उनमे इन्सुलिन तेजी से लाभ करेगी. रक्त शर्करा कम होगी साथ ही ह्रदय पर डायबिटीज के होने वाले दुष्प्रभावों को खतरा भी कम होगा.

  • दालचीनी को खाने की मात्रा

दालचीनी एक से तीन ग्राम लें, लेकिन केंसर में बडी मात्रा में प्रयोग किया जाता है. गर्भवती को अल्पमात्रा में दें. इसको सिर दर्द गुर्दे, मूत्राशय में ज्यादा दालचीनी के सेवन से नुकसान होता है. गर्भावस्था के दौराना इससे गर्भपात हो सकता है. दालचीनी का तेल एक से पांच बुंद दें.’

उम्मीद हैं दोस्तों आपको dalchini ke fayde or labh के बारे में जानकर अच्छा लगा हो. दालचीनी से बहुत सी बिमारियों का घरेलु इलाज व उपचार किया जा सकता हैं यह आपने आज जान ही लिया हैं तो भविष्य में दालचीनी का उपयोग जरूर करें.

अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो ऐसे अपने दोस्तों के साथ Facebook, Whatsapp, Twitter पर Share जरूर करे ताकि सभी लोगों को Cinnamon ke benefits hindi के बारे में मालूम हो जाए इन हिंदी.

loading...
loading...

Leave a Reply

error: Please Share This but dont Copy & Paste.