Top 15 सोयाबीन खाने के फायदे – Soybean Benefits in Hindi

Jaaniye Soybean Ke Benefits Fayde in Hindi

soybean ke fayde, soybean benefits in hindi

Padiye Soybean benefits ke baare mein, Soybean hair fall, pimples, cancer, haddi ko majbut banane aadi mei bahut help karti hai. Soybean ke fayde bahut se hote hai. Eska daily use karne par aap aasani se takatwar sharir bana sakte hai. Soybean se hone wale labh (benefits) ke baare me jarur padein.

स्मरणशक्ति बढाने के लिए सोयाबीन का हलवा खायें –

Soyabean health benefits in hindi – सोयाबीन का आटा मिलाकर रोजाना खाने से कैंसर एक्जीमा से बचाव होता हैं और पेट साफ होता है। अम्लपित में भी लाभ हेाता है।

कैंसर को रोकता हैं सोयाबीन

रोजाना 25 ग्राम सोया प्रोटीन लिया जाये तो कैंसर से बचा जा सकता है। सोया प्राटीन का भंडार है। हर प्रकार के कैंसर में सोयाबीन का किसी भी रूप में उपयोग लाभकारी है। स्तन कैंसर, मूख केंसर और आंतों के कैंसर में सोयाबीन बहुत फायदेमंद होता है।

सोयाबीन का आटा, सोयाबीन की पाचन विधी

सोयाबीन में ट्रिप्सिन पदार्थ होता हैं जो सोयाबीन का पाचन नहीं होने देता। इस ट्रिप्सिन को बाहर निकालने के लिए सोयाबीन को बारह घंटे पानी में भिगोकर रगडकर छिलका उतारकर धोकर उबालें, उबलने पर पानी निकलने पर धूप में सुखा लें, इसको पीसवा लें यह सोयाबीन का उत्तम आटा है। इसका उपयोग खाना बनाने में करेे। (Soybeans natural benefits for health)

मोटापा घटने में सहायक होती हैं सोयाबीन

Soyabean se motapa ghataye – सोयाबीन में पाया जाने वाला आइसोफ्लेविन्स नामक प्रोटीन शरीर में चर्बी का भंडारण कम करके मांसपेषीयों को मजबूती प्रदान करता हैं और
चर्बी वाली कोशिकाओं की व्रद्धि को रोकता है। सोयाबीन महिलाओं में रजोनिवृत के दौरान चर्बीहीन उत्तकों के क्षय को भी रोकता है। मोटापे के शिकार लोगों के लिए सोयाबीन का सेवन रामबाण के समान सिद्ध हो सकता है |

Soyabean ke fayde – मेक्सिको के शोधकर्ता ने पाया कि सोया प्रोटीन का सेवन यकृत में ट्राईग्लिसराई और कोलेस्टोल की मात्रा में कमी कर देता है। सोया प्रोटीन यकृत में इंसुलीन प्रतिरोध गुर्दा रोग के खतरे और मोटापे जैसे स्थिति को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसलिए जो लोग मोटापा काम करना चाहते वह सोयाबीन का रोजाना उपयोग करें |

दूध बनाना (Soybean Milk)

सोयाबीन का बारिक पीसा आटा 3 गुने गर्म पानी में पांच घंटे भिगोकर पतले कपडे में डालकर मल-मल कर छांन लें, छने हुए सफेद पानी को 20 मिनट मंद-मंद आंच पर उबालें, उबालते समय इसमें पांच छोटी इलायची पीसकर डाल दें, उबलने पर शकर डालकर पीयें। यह पीने का दूध तैयार हो गया। दहीं जमाना हो तो इसमें इलाचयी नहीं डालें, जामन डालकर दहीं बना लें।

Soybean Khane Ke Fayde or Labh

सोयाबीन के दूध में गंध आती हो तो

अगर सोयाबीन के दूध में हल्की सी गंध आती हैं वह किसी को अच्छी नहीं लगती। यह गंध दूर करने के लिए सोयाबीन भिगोते समय आधी छोटी चाय वाली चम्मच खाने का मीठा सोडा और चौथाई चम्मच नमक पानी में डालकर सोयाबीन का आटा घोलें।

अगर साबुत सोयाबीन भिगोये तो 12 घंटे पहले यह दोनों खाने का सोडा और नमक पानी में डालें फिर सोयाबीन भिगोयें। उबालते समय एक चम्मच बैंकिंग पावडर डालकर उबालेें। इससे गंध दूर होकर दूध जैसी गंध आयेगी। यह दूध बहुत पौंष्टिक होता हैं।

मधुमेह, हृदय रोग व गुर्दा रोग में सोयाबीन लाभप्रद होती हैं

Soybean khane se hone wale anek labh fayde – भोजन में सोयाबीन रोजाना खाते रहने से यकृत में प्रोटीन की मात्रा ज्यादा पहूचंने से यकृत में जमा वसा से निजात मिल सकती है। यकृत में अधिक वसा जमा होने से लोगों को Diabetes हो जाती है।

सोयाबीन में कैल्शियम, जिंकी थयरोमीन, मियासीन, रायबो फ्लेमिंग और विटामीन बी 6 की भी सही मात्रा मिलती है। सोया में एंटी आॅक्सीडेंट तत्व होते है। जो की शरीर को एक दिन के लिए जितने लौहे (Iron) की जरुरत होती हैं वह उबली हुई सोयाबीन आधा कप खाने से मिल जाती है।

रक्त की कमी एनीमीया को दूर करता हैं

सोयाबीन में Iron अच्छी मात्रा में पाया जाता हैं, इसलिए इसके नियमित सेवन से खून की कमी पूरी होती है। जिन रोगीयों की पाचनशक्ति कमजोर हैं उन्हें सोयाबीन के दूध का उपयोग करना चाहिए।

यह कैंसर, Lower Cholesterol से बचाव करने के साथ ही Osteoporosis की रोकथाम कर मैंनोपोज के दूष्प्रभाव को कम करने में सक्षम है। सोया में स्वास्थ्य के बहुत सारे राज छिपे हैं। इसमें मौजूद एसफलेवर्नेस नामक तत्व शरीर में बनने वाले हार्मोन ऐस्टोजन के बराबर है यह LDL लोव डेंसीटी बेड लायपो प्रोटीन या बेड कोलेस्टोल लेवल को कम करता है।

मूंहासे दूर करने के लिए

सोयाबीन के पचास ग्राम तेल में आधा चम्मच निबू का रस छांनकर मिलाकर चेहरे पर लगाने से मूंहासे ठीक हो जाते है। (soybean munhase pimples bhi khatm karta hai).

बाल काले करने के लिए

सिर में सोयाबीन को तेल लगाये, सोयाबीन आॅक्सीकरण प्रतिरोधक एंटीआॅक्सीडेंट है। प्रदुषण युक्त जनजीवन में सोयाबीन का सेवन बहुत जरुरी और लाभप्रद है।

हड्डियों को मजबूत बनाता हैं सोयाबीन

विशेषज्ञों के अनुसार हड्डियों के रोग Osteoporosis को प्रभावित करने वाले कारकों में Calcium की मात्रा, Harmone असंतुलन और शरीरिक श्रम मुख्य है। महिलाओं में यह रोग पुरूषों की अपेक्षा अधिक देखने को मिलता है। विशेषज्ञों के अनुसार हड्डियों की मजबूती के लिए यह बहुत जरुरी हैं कि सोया प्रोटीन को ज्यादा मात्रा में अपने भोजन में शामिल किया जाये।

एक नए शोध के अनुसार जो महिलाएं अधिक मात्रा में सोया प्रोटीन का सेवन करती हैं उनकी हडीयों में अधिक मजबूती होती है। सोया प्रोटीन के सेवन से जोडों के दर्द व पीठ दर्द की संभावना भी कम पायी गयी है।

सोया Phytoestrogens का अच्छा स्त्रौत हैं और हडीयों की घनत्व संख्या पर अच्छा प्रभाव डालता है। (Soybean se haddiyan majbut kare).

ह्रदय रोगियों के लिए सोयाबीन के फायदे

सोयाबीन में कोलस्टोल नही होता है, इसलिए ह्रदय रोगीयों के लिए यह बहुत लाभदायक है। यह दिल को ताकत देता है।

सुखा मेवा व सोयाबीन से बने पदार्थ

सोयाबीन का दूध, दहीं, छेना, उबली हुई सोयाबीन बहुत लाभदायक है क्योंकि सोयाबीन में ओमेगा three और फेटी ऐसीडस होते हैं। यह मस्तिष्क की कोशिकाओं को स्वस्थ बनायें रखते है। सोयाबीन मे फायटोऐस्टोजन्स होते हैं जो शरीर के हार्मोन ऐस्टोजन के समान काम करते हैं। जिसमें हम ह्रदय रोग, हडीयों की कमजोरी और कैंसर से बच सकते हें।

उम्मीद है दोस्तों आपको सोयाबीन के फायदे और लाभ के बारे में जानकर बहुत अच्छा लगा हो. Soybean ke benefits का पूर्ण लाभ लें. यह शरीर को ताकतवर भी बनाती है. जिन लोगो को शरीर बनाना है उनको इसका सेवन जरूर करना चाहिए.

Also Read :

  • Scroll Down & Read More.
loading...

5 Comments

  1. gulshan
    • HindiMind
  2. Chetan pawar
  3. Deepak
  4. Prasan Kumar Sand

Leave a Reply

error: Please Share This but dont Copy & Paste.