विराट व्यक्तित्व की दरकार – Motivational Lesson From George washington life

Motivational Lesson From George washington life

Motivational Lesson From George washington life

Incident year 1750 कि हैं North virginia के  जंगलों में Survivors का  एक group रात को dinner कर रहा था, suddenly एक women की भयानक चिख ने उन्हें हस्तप्रद कर दिया। Survivors चीख का कारण जानने को फोरन पेडों के चारों तरफ बिखर गये।

Ohh! Sir, आप मेरी Help जरूर करेंगे। उस Women ने survivors को देखते ही कहा- एक survivor ने पूछा आप क्या चाहती है ? women ने जवाब दिया इन लोगों से कहो कि मुझे छोड दे, मेरा बेटा डूब रहा हैं । यह लोग मुझे बचाने नहीं दे रहे है। यह पागलपन हैं, वह पानी में डूब जायेगी।

उसे पकडकर खडे आदमीयों में से एक ने कहा- तेज लहरें उसे seconds में लील जायेंगी। एक young survivor ने immediately अपना coat उतारा, वह जल्द ही उस नदी में कूद पड़ा ।

उस बच्चे की माँ ने कहा, भगवान का शुक्र है अब वह मेरे बेटे को बचा लेगा | सभी की नजरें उस young survivor पर टिकी थी, वह तेज लहरों और भवरों से जुझ रहा था। वह नदी के सबसे खतरनाक हिस्से के बेहद नजदीक पहूंच चुका था। इस हिस्से में कभी किसी ने हिम्मत नहीं की थी। उस young survivor ने अपनी कोशिश और तेज कर दी ।

वह तीन बार लडके के नजदीक पहूंचा, लेकिन जैसे ही वह उसे पकडने वाला होता लडका उसके हाथों से और दूर फिसल जाता । उसने आखिरी बार try किया लडका उसके right hand की मजबूतगिरफ्त में आ चुका था।

लेकिन उसके बाद देखने वालों के मुह से चीखे निकल पडी, क्योंकि एक बड़ी और तेज़ लहर ने उन दोनो को अपने area में समेट लिया था, और वे उस ढेर सारे पानी में खो गये। कुछ देर बाद लडके को थामे वह young survivor नदी के उस हिस्से में पहूंच गया जहां जलधारा कुछ quiet थी।

जब दोनो किनारों पर पहूंचे तो उनके group वालों ने उन्हें safe बाहर निकालने में help की। भगवान तुम्हारीे उम्मींदे जरूर पूरी करेगा । women ने soft words में कहा- आज के तुम्हारें kindness के बदले वह तुम्हें जरूर reward देगा , और मेरे जैसे हजारों लोगों की दुआऐं तुम्हारे साथ रहेगी।

यह young survivor George Washington थे । जो आगे चलकर अमेरिका के  President बने । जिन्होंने courage से काम लिया उन्होनें अपने life की greatness पर पहूंचने से पहले ही दुनिया को झकझोर डाला। पहल करने की courage और patience ने youngers को भी किन शिखरों पर पहूंचने की strength दी है यह देखकर हैरत होती है।

The great alexander (सिकन्दर) 20 years की Age में राजगद्दी पर पहूंचा। जब वह सिर्फ 33 years की age में मरा तब तक वह Total known Empire को जीत चूूका था। Julius Caesar ने 800 City’s, 300 Nations को जीतने के अलावा तीस लाख लोगों को Defeat किया था। वह बेहतरीन speaker और शानदार कुटनीतिज्ञ था। इसके बाद भी वह युवा ही था।

George washington को 19 years की little Age  में सेना का एडजूटेंट General बना गया, और 21 years की age तक पहूंचते-पहूंचते उसे france के साथ बातचीत के लिए राजदूत के लिए appointed किया गया। जब कर्नल के रूप में उन्होंने पहली war जीती तो उनकी age only 22 years थी।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा तो कृपया इसे SHARE करना न भूले और Comments के सहारे से हमें बताये की यह आपको केसा लगा

loading...

Leave a Reply

error: Please Share This but dont Copy & Paste.