लोमड़ी और खट्टे अंगूर – असफलता पर कहानी – जरूर पड़ें

World’s best motivational story on failure – यह कहानी उन लोगों पर एक करारा व्यंग्य है जो की अपने काम में असफल होने के बाद तरह-तरह के बहाने बना लेते है, और कहते है वह तो ऐसा ही काम था यार आदि तरह-तरह से बाते बनाने लगते है और बात को गोल-मोल कर देते हैं. (लोमड़ी और अंगूर खट्टे हैं स्टोरी)

आगे पढ़ें पंचतंत्र की प्रसिद्द प्रेरणादायक कहानी – अंगूर तो खट्टे थे.

angoor khatte the

Greedy Fox and The Grapes Story in hindi Also For Kids

लोमड़ी और अंगूर – एक लोमडी भूखी-प्यासी जंगल में इधर-उधर भटक रही थी लेकिन उसे कहीं कुछ खाने को न मिला. बेचारी पानी पीकर पेट भरतीं और आगे बढ जाती. घुमती-घुमती वह अंगूरों के एक बगीचे में पहुची वहां बैलों पर पके अगूरों के लटकते गुच्छे को देखते ही भूखी लोमडी के मूंह में पानी भर गया.

वह अपने पिछले पैरों पर उछल-उछल कर अंगूर के गुच्छों तक पहूंचने की चेष्ठा करने लगी. अंगूर काफी उंचाई पर थे इसलिए वह हर बार अंगूरों तक पहूचंने में नाकाम हो रही थी. लोमडी खूब कुदी-फांदी मगर वह अंगूरों तक पहूंच ही न सकी.

एक तो भूख के मारे पहले ही वह अधमरी हुई जा रही थी दूसरें यहां कहीं-कहीं फिट उछलने के कारण उसकी पसलियां हिल गई थी. अंन्ततः थक-हारकर उसने उम्मीद ही छोड दी और वहां से चलती बनी. जाते-जाते अपने दिल को तसल्ली देने के लिए उसने मन ही मन कहा – अंगूर तो खटटे हैं ऐसे खटटे अंगूर कौन खाये.

जब किसी कार्य में सफलता नहीं मिले तो बार-बार प्रयास करना चाहिए न कि उस कार्य को असाध्य समझ कर छोड देना चाहिए.

Fox And The Grapes – लौमड़ी और अंगूर की कहानी

ऐसे बहुत से व्यक्ति होते जो अपने लक्ष्य को पाने में असफल हो जाते है और फिर कहते है “अंगूर तो खट्टे है” असल में ऐसी बहानेबाजी उनके जीवन को ही खट्टा बना डालती है. इसलिए अपने जीवन में कभी भी ऐसा मौका न लाये की आप भी यह कहे की यार “अंगूर तो खट्टे थे”

यह तो आपने भी जाना होगा – उदाहरण के लिए जैसे आप किसी IAS के असफल Student से IAS की पढ़ाई के बारे में पूछेंगे तो वह नकारात्मक बाते कहेगा की इसमे तो Selection के लिए पैसे चलते है, बेईमानी होती है आदि. वह आपसे ऐसी ही बाते करेगा क्योंकि उससे IAS की Study Clear नहीं हो पाई इसलिए वह सबको ऐसा ही बोलेगा ताकि किसी को उसकी पढ़ाई पर शक न हो.

दोस्तों यह जो हमने ऊपर बताया यह हमारा खुद को Personal Experience है. हमारे साथ भी यह घटना घटी है. मुझे भी बहुत से लोगों ने अपने लक्ष्य के प्रति नकारात्मक बाते कही थी. लेकिन वह व्यक्ति जो खुद पर विश्वाश रखता हो उसे कोई नहीं रोक सकता. सफलता के लिए बस कड़ी मेहनत और Smart work की जरुरत होती है. क्या आपको लोमड़ी और अंगूर की कहानी पसंद आई ?

याद रखै जब भी आपको कोई नकारात्मक सुझाव दै तो उनकी बातों पर जरा भी ध्यान न दें. बस यही ही सफलता का रहस्य.

lomdi aur angoor story in hindi, khatte angoor in hindi, lomdi aur angoor ki kahani,Greedy fox and grapes story in hindi

Leave a Reply

error: Please Share This but dont Copy & Paste.