जीरा खाने के 25 फायदे – Cumin Seeds Benefits ‘Nuskhe’ in Hindi

Cumin Seeds Remedies जीरे का पौधा तिन से चार फुट तक का ऊंचा होता है | यह अधिकतर सभी जगह पाया जाता है | इसकी शाखाएं बहुत पतली होती है, इसके फूल सफ़ेद रंग के छोटे-छोटे से होते हैं.

जीरा आँखों की रोशनी बढ़ाने में भी बहुत सहायक होता है खून की शुध्दि भी करता है, इसके सेवन से खुलकर भूख लगती है | इसके और भी बहुत से लाभ होते है आइये पड़ते है उन जीरे के फायदों (fayde) के बारे में.

Jeera Cumin Ke Benefits in Hindi

jeera cummin benefits in hindi

Tvacha Rog Thik Kare

Jeera khane ke benefits jaaniye in hindi me –जीरा फोड़े फुंसी सोरायसिस, एक्जिमा और त्वचा के रूखेपन जैसी समस्याओं को दूर करने में सहायक होता है | फेसपैक बनाते समय इसमें कुछ मात्रा में जीरा पाउडर को मिलाये | यह जलने छिंलने के निशान और झुर्रिया को दूर करेगा | मसूए और फुंसी होने पर जीरे को पिसे और सिरके में मिलाकर चर्म पर लगाएं |

Garmi Ke Funsiya

एक चम्मच कच्चा जीरा रोजाना सुबह एक कप पानी में घोलकर पिने से गर्मी के मौसम में होने वाली फुंसियों में लाभ होता है |

कुत्ता काटना

2 चम्मच जीरा और 20 काली मिर्ची पानी में पीसकर कुत्ते के काटे हुए स्थान पर लगाएं | इससे कुत्ते का जहर ख़त्म हो जायेगा |

Pachankriya के रोग को ठीक करे

पाचन शक्ति कमजोर, दस्त थोड़ा-थोड़ा कई बार जाना पड़ता हो | पेट दर्द आदि रोगों में खाना खाने के बाद जीरा काली मिर्ची सेंधा नमक सब पीसकर मिलाकर एक ग्लास छांछ में अपने टेस्ट के हिसाब से चूर्ण मिलाकर रोजाना दो बार पियें इससे पाचन सम्बंधित रोगों में लाभ होगा |

पाचक चूर्ण

  • जीरा सोडा सेंधा नमक पीपल कालीमिर्च, ये सब समान मात्रा में पीसकर एक चम्मच भोजन के बाद पानी से लेने से खाना जल्दी ही पच जाता है
  • 2 चम्मच जीरा एक ग्लास पानी में उबालें फिर ठंडा कर के छानकर आधा-आधा कप तिन बार पियें | (cumin seeds benefits all info)

Dast को ठीक करने के लिए

  • खाना खाने के बाद छाछ में सिका हुआ जीरा काला नमक मिलाकर पियें दस्त बंद हो जायेंगे | दस्त आने पर जीरा दही और शक्कर के साथ लें |
  • भुना पिसा जीरा एक चम्मच एक कप पानी में अपने टेस्ट के हिसाब से नमक निम्बू निचोड़कर रोजाना दिन में तिन बार पिने से दस्त के साथ हो रही उलटी भी बंद हो जाती है | jeere ke swasthya labh.

खून की उलटी होना

जीरा 3 ग्राम और मिश्री 6 ग्राम मिलाकर पीसकर पानी के साथ फांक लेने से खून आना बंद हो जाता है | इसे अपनी अपनी जरुरत के हिसाब से दिन में 2 बार लें |

दुःख सुखाना

शिशु के मर जाने से स्त्री के स्तनों में दूध जमा होकर दर्द, तनाव होता रहता है | काले जीरा पर पानी डालकर पीसकर स्तनों पर लेप करने से लाभ होता है |

गैस को ख़त्म करना

3 ग्लास पानी में एक चम्मच जीरा डालकर मंद आंच पर एक ग्लास पानी रहने तक उबालकर छानकर खाने के बाद रोजाना तिन बार पिने से गैस ख़त्म हो जाती है |

मसूढ़ें फूलना

दर्द टीस आदि होने पर भुना हुआ जीरा और सेंधा नमक समान भाग पीसकर छानकर मसूढ़ें पर रगड़ें और लार टपका दें | जल्द ही मसूढ़े ठीक हो जाएँगी |

सूजन कम करेगा

दर्द होने पर दो चम्मच जीरा तिन कप ग्लास पानी में डालकर गर्म करके सेंक करने से लाभ होता है |

खांसी दूर करने का तरीका

एक चम्मच जीरा और एक चम्मच सौंफ पीसकर आधा चम्मच शहद में मिलाकर खाने से खांसी ठीक हो जाती है |

लोहा Iron

जीरे में लोहा होता है जो हीमोग्लोबिन बढ़ाता है | रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाता है | पाचनशक्ति और पेंक्रियाज के स्राव बढ़ाता है | पाचनतंत्र को मजबूत बनता है |

शीतल (ठंडक देगा जीरा)

जीरा शरीर को ठंडक देता है, इस कारण गर्मी के मौसम मैं हर नमकीन पेय दही, छाछ, शिकंजी, कैरी की छाछ सभी में जीरा डालते है | ये शरीर में ऑक्सीजन पहुंचाता है |

Jeera Khane Ke Labh Or Fayde

jeera khane ke fayde labh benefits

कैंसर से बचायेगा

jeera khane ke khas labh – जीरे में कार्सिनोजेनिक तत्व मौजूद होते है जानवरों पर किये गए एक्सपेरिमेंट्स में सामने आया हैं की जीरे में पेट की तिल्ली और इसके tumer को बढ़ाने के रोकने के गुण पाये जाते हैं | यह कैंसर की रोक थाम के लिए बहुत जरुरी है |

दर्दनाशक होता है जीरा

जीरा दर्द दूर करता है | जीरे पर पानी डालकर चटनी की तरह बनालें जहां भी दर्द हो जैसे बवासीर, पेट दर्द, स्तन दर्द, अंडकोष में दर्द आदि में इसका लेप करें | जीरा और मिश्री दोनों पीसकर 2-2 चम्मच तिन बार रोजाना पानी से फांक लें | जीरा पीसकर कपड़ा छानकर घी मिलाकर गरम करके पेस्ट बनाकर भी लगा सकते है | इससे लाभ होगा |

अनिद्रा की समस्या

सोते समय एक चम्मच सेंका, पिसा हुआ जीरे की फंकी गरम दूध से लेने से नींद अच्छी आती है | इसे केले पर डालकर भी खा सकते है |

रक्तचाप कम करता है

Blood pressure – जीरा 100 ग्राम, कालीमिर्च 25 ग्राम और मिश्री 150 ग्राम लें पहले जीरा थोड़ा भून लें फिर कालिमिर्ची के साथ पिसलें | फिर इसमें मिश्री मिला दें इस पाउडर को कांच के शीशे में रखलें | एक-एक चम्मच दिन में दो बार किसी भी समय फांक लें | लो और हाई ब्लड प्रेस्सुर ठीक हो जायेगा |

दिल के रोग ठीक करेगा

10 ग्राम पिसा जीरा एक कप पानी में भिगोकर रोजाना सुबह मिश्री मिलाकर रोजाना पीते रहने से दिल की बीमारियों में फायदे होते है | यह पेशाब अधिक लाकर ह्रदय को शक्ति देता है | weight loss

  • बिच्छू के काटने पर घी शहद और नमक के साथ जीरा लगाए |

दूध में वृद्धि करने का उपाय

health benefits of cumin – 125 ग्राम जीरा घी में सेंक कर 125 ग्राम पीसी हुई मिश्री मिला लें इसकी दो चम्मच भरकर सुबह-शाम दूध के साथ सेवन करें | जिन माताओं को बच्चे को दूध पिलाने में दुःख की कही हो, उनका दूध बढ़ जाता है |
श्वेत प्रदर,स्तन में दूध की कमी होने पर जीरा भूनकर, पीसकर सामान मात्रा में चीनी या गूढ़ के साथ रोजाना तिन बार खाएं | बिना भुना जीरा भी ले सकते है |

loading...
error: Please Share This but dont Copy & Paste.