कठिन कार्य कष्टदायक नहीं – Importance of Hard Work in Success or Life

Importance of Hard work in Life

hard work in hindi story

कठिन कार्य कष्टदायक नहीं

एक Success’full व्यक्ति ने अपनी मेज के सामने यह sentence लिखकर लटका रखा था- सबसे difficult work सबसे पहले करना चाहिए।  यदि प्रातः काल कार्य प्रारंभ करते समय सबसे पहले कठिन कार्य किया जाये तो उससे अनेक फयदे है।

यह आदत बडी लाभदायक है, क्योंकि इससे आवयश्यक कार्य टाले नहीं जा सकते। जिन कार्यों को टाले भी जायेगा वे इतने आवयश्यक नहीं होंगे। उन्हे अन्य किसी समय भी किया जा सकता है।

प्रातः काल जो व्यक्ति कार्य प्रारंभ करते समय पहले अनावश्यक काग-जात देखने, साधारण बातों पर झगडने, सामान्य बाते करने की कोशिश करता है उसके मन और मस्तिष्क की ताजगी समाप्त हो जाती है।  

इसका परिणाम यह होता हैं कि आवयश्यक और महत्वपूर्ण कार्य पडा रह जाता है। उच्च जीवन की प्राप्ति के लिये निष्ठा और सक्रियता से लगे रहना अपने आप में एक महान आदर्श है।

किसी व्यक्ति पर किसी बडे दायित्व का बोझ डाल दिया जाये और यदि वह व्यक्ति वह साहसी है तो वह एक न एक दिन अवश्य ही अपनी शक्तियों power  का प्रदर्शन करेगा और उसके द्वारा उसका जोहर स्वयं बाहर निकल आयेगा।

यही वह समय होता है जब व्यक्ति में हिम्मत साहस और आत्मविश्वाश के कारण परिणामों को प्रकट करने की शक्ति प्रकट होती है। उत्तरदायित्व का प्रसन्न होकर स्वागत करें । हो सकता है कि सफलता का रहस्य उसमे ही छुपा हो।

गुणों में निहित है शक्ति 

keep positive thinking in life जैसा सोचोगे वैसा बनोगे  – मनुष्य के गुणों की अदृश्य लहरें आसपास के वातावरण को धीरे-धीरे प्रभावित करती है। आकर्षण प्रेम, घ्रणा, ग्लानि की लहरें हमारे पारिवारिक जनों और मित्रों के बीच बनी रहती है। 

इन गुप्त लहरों का प्रभाव हमारें संपर्क में आने वाले व्यक्तियों के कार्य से स्पष्ट हो जाता है। जब हम किसी व्यक्ति से मिलते हैं तो हम एक विशेष प्रकार का प्रभाव उस पर छोडते है।

हमारी वेशभूषा , आदतें, तोर-तरीके मानसिक और शारीरिक सामथ्र्य के अनुसार जो काम हम कर चुके है अथवा जिन कार्यों में सफल व असफल रहे है।

वे सब बाते  हमारे अधिकार, और हमारी प्रसिद्धी और कीर्ति कहलाती है। उन्हीं सब बातों पर हमारी सफलता निर्भर करती है।

यदि आप दुकानदार हैं तो ध्यान दिजिए कि इस प्रवत्ति के कारण कितने ग्राहक आपसे नाराज हुए है। प्रत्येक व्यक्ति को प्रकाश की खोज है, प्रत्येक व्यक्ति खिली हुई धूप का आनन्द लेना चाहता है।

प्रत्येक व्यक्ति को सुरक्षा की आवष्यकता है, अशांति और उपदृव से हर किसी को घ्रणा होती है।

यदि यह इच्छा हैं कि लोग आपके पास चुंबक के समान खिंचते चले आये तो इसके लिए आवश्यक हैं कि स्वयं अच्छा व्यक्ति बनने का प्रयत्न करें।  

इसके लिए आचरण और नैतिकता पर भी ध्यान देना और साथ ही साथ स्वास्थ्य पर भी ध्यान रखना आवश्यक है। किसी भी सुसंस्कृत व्यक्ति को देखें तो उसके चेहरे पर स्वास्थ्य और शक्ति के चिह्न नजर आयेंगे।

Also Read :

loading...

Leave a Reply

error: Please Share This but dont Copy & Paste.