21 Healthy Guava Benefits in Hindi – Amrud Ke Achuk Fayde

Guava Benefits in Hindi (Amrud Ke Fayde)

guava benefits in hindi amrud ke fayde

पढ़िए guava/Amrud khane ke fayde होते हैं, Amrood बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी के लिए बहुत लाभदायक होता है, फोड़े फुंसी, पेट दर्द, बालों के लिए, अजीर्ण अतिसार, मुंह के छाले आदि को ख़त्म करने में बहुत उपयोगी होता है.

अमरूद खाने से नुकसान – Amrud Ke Nuksan

  • सुबह खाली पेट अमरूद/Amrood कभी नहीं खाना चाहिए। खाली पेट अमरूद खाने से उदर में जलन होने लगती हैं
  • अधिक मात्रा में वायु गैस की उत्पत्ति होती है। उदर शूल भी हो सकता है।
  • ज्यादा मात्रा में अमरूद खाने से अतिसार भी हो सकता है। कुछ लोग ज्वर से पिढित भी हो सकते हैं। amrud ke patte.
  • अमरूदो को बीजों सहित खाते समय बीजों को अधिक चबाना चाहिए। नहीं तो उदर शूल की उत्पत्ति कर देते है।
  • अच्छी तरह पके हुए अमरूद खाना चाहिए ।
  • कच्चे अमरूद गरिष्ट होने के कारण देर तक नहीं पचते। और उदर शूल की उत्पत्ति करते है।
  • प्रोढ स्त्री-पुरूषों को भी बीज निकालकर अमरूद का सेवन करना चाहिए। ज्यादा मात्रा में
  • अमरूद खाने से पेट दर्द हो सकता है।
  • ज्यादा मात्रा में अमरूद खाने से अजीर्ण की विकृति भी हो सकती है।
  • वर्षा ऋतु में अमरूद खाने से हेजे की की अधिक आशंका रहती है। amrood se hone wale labh.

Short List Of Guava Amrud Benefits

  • अमरुद आंखों की रोशनी बढ़ाता हैं
  • ब्लड प्रेशर को कण्ट्रोल करता हैं
  • मस्तिष्क को मजबूत बनाता हैं
  • शरीर को स्वस्थ बनाने में मदद करता हैं
  • पेट की समस्याओं को दूर रखता हैं
  • रोजाना अमरुद के सेवन से कैंसर में लाभ होता हैं
  • अमरुद का जूस बीने से फ्लू में लाभ होता हैं
  • अमरुद डेंगू जैसे बुखार से दूर रखता हैं
  • इसमें Vitamin C की भरपूर मात्रा होती हैं, इससे त्वचा निखरती हैं
  • मुंह के दाग, धब्बे, फुंसियों को ख़त्म करता हैं

अमरूद के पत्ते आंखों के लिये

अमरूद के पत्तों को थोडे से पानी के साथ पीसकर आंखों पर बांधने से नैत्राभिषंद, Conjunctivitis रोग में बहुत लाभ होता है।

ह्रदय, अमाशय और मस्तिष्क

अमरूद को काटकर मधु मिलाकर खाने से ह्रदय, मस्तिष्क और अमाषय को बहुत शक्ति मिलती है।
अमरूद को गर्म राख में भुनकर खाने से खांसी की विकृति नष्ट होती है।

उन्माद के रोगी के लिये

अच्छे पके हुए भीतर से लाल अमरूदों को 300 ग्राम मात्रा में सबुह-शाम उन्माद के रोगी को खिलाने से बहुत लाभ होता है। guava health benefits in hindi language me.

मधुमेह रोग में अधिक प्यास लगने पर

अमरूद को काटकर छोटे-छोटे टुकडे बनाकर पानी में डालकर रखें। एक-दो घंटे बाद उस पानी को छांनकर पीने से मधुमेह रोग में प्यास की अधिकता कम होती है।

फोड़े फुंसियों को ख़त्म करे

अमरूद के वृक्ष की छाल जल में उबालकर छांनकर उस जल से व्रण, फोडे-फुंसीया साफ करने में बहुत लाभ होता है।

मुंह के छाले ख़त्म करे

अमरूद के पत्तों का रस निकालकर उसमें खदीर, कत्था मिलाकर मूंह के छालों पर लगाने से छाले जल्द नष्ट हो जाते हैं।

दांत दर्द के लिये

अमरूद के कोमल पतो को चबाने से दातों का दर्द नष्ट होता है।
दांतों के रोगीयों को पर्याप्त मात्रा मे अमरूद खिलाने से पर्याप्त मात्रा में विटामीन C मिलता है। विटामीन C दांतों के स्कर्बी रोग को नष्ट करता है।

Students के लिये फायदेमंद होता हैं

guava leaves ke benefits hindi me – छात्रों को प्रतिदिन दोपहर के समय अमरूद खाने से बहुत लाभ होता है। क्योंकि अमरूद स्मरण शक्ति का विकास करता है।

Amrud Khane ke khaas Fayde

भांग का नशा ख़त्म करने के लिये

भांग का नशा हो जाने पर अगर उस व्यक्ति को 25 ग्राम अमरूद के पत्तों का रस पिलाया जाये तो उसका नशा पलक झपकते ही खत्म हो जाता है। अमरूद पिलाने पर भी नशे से मुक्ति मिलती है।

आड़े सर का दर्द ख़त्म करता हैं

हरे- कच्चे अमरूदों को जल के साथ सिल पर पीसकर मस्तक पर लेप करने से आधा सिसी का दर्द नष्ट होता है।

हैजे में लाभ देता हैं

amrud khane ke se hone wale fayde अमरूद के वृक्ष की छाल का काढ़ा बनाकर पिलाने से हेजे की प्रारंभिक अवस्था में बहुत लाभ होता है। रोगी को काढा थोडी-थोडी मात्रा में पिलाना चाहिए।

बवासीर के रोगियों के लिये

पके हुए अमरूद में छेद करके उसमें से थोडा सा गुदा निकालकर आजवाईन का चूर्ण तीन-चार मात्रा में भर दें फिर उस छेद को बंद करके अमरूद को किसी पात्र में रखकर गर्म रेत या राख में पका लें। ऐसे पकायें अमरूद को कुछ दिन खाने से अर्ष, बवासीर रोग नष्ट हो जाता है।

पेट दर्द का इलाज

अमरूद के वृक्ष की पुगनी में सेंधा नमक मिलाकर खाने से पेट दर्द नष्ट होता है।

बच्चों के फोड़े फुंसी

किसी बच्चे को रक्त विकार के कारण अधिक फोडे फुंसीया निकलती हो तो उस बच्चे को कुछ दिनों तक अमरूद खिलायें। अमरूद खाने से फोडे फुंसिया की विकृति नष्ट होती है।

अजीर्ण और अतिसार में लाभ देता हैं

  • अमरूद के कोमल पत्तों के 20 ग्राम रस में शर्करा मिलाकर सेवन कराने से अजीर्ण की विकृति नष्ट होती है।
  • अमरूद के वृक्ष की छाल का काढा बनाकर दिन में दो-तीन बार पीने से जीर्ण अतिसार में बहुत लाभ होता है।
  • विषम ज्वर मलेरिया के रोगी को अमरूद पिलाने से बहुत लाभ होता है।

बच्चों की काली खांसी ख़त्म करे (For Kids)

  • अमरूद को गर्म रेत या राख पर कुछ देर तक रखकर भुनकर बच्चों को खिलाने से काली खांसी में बहुत लाभ होता है।
  • अमरूद को काटकर थोडा सा मधु और सेंधा नमक मिलाकर खाने से बच्चों के पेट की कृमि नष्ट होती है।

बालों को घना करने के लिये (Benefits For Hair)

अमरूद और सीताफल के पत्तों का रस 30-30 ग्राम मात्रा में लेकर उसमें निबू का रस मिलाकर स्नान से एक घंटे पहले बालों की जडों में उंगलीयों से मलने और फिर बालों को धोने से बाल घने, लंबे और चमकीले होते हैं।

Also Read : 

loading...

Leave a Reply

error: Please Share This but dont Copy & Paste.