लौंग खाने के ख़ास 20 फायदे और लाभ – Clove Benefits in Hindi

Long Clove Benefits in Hindi

clove benefits in hindi laung

लोंग का धार्मिक दृष्टि से बहुत महत्त्व है क्योंकि किसी पूजा अनुष्ठान में लौंग का जोड़ा अर्पित किया जाता है | लौंग को घी के साथ मिलाकर दीपक के साथ मिलाकर पूजा करते है |

लौंग को सुगन्धित होने के कारण सभी स्त्री पुरुष पसंद नहीं करते हैं | लौंग से बहुत सी प्राकृतिक औषधीय (Natural Remedies) बनती है (clove laung benefits आइये जाने उनके बारे में | (fayadei)

Laung Khane Ke Fayde Or Labh 

#1.लौंग को पानी के साथ पीसकर, shahad मिलाकर चाटने से खसरे के रोग में बहुत लाभ होता है |

#2. लौंग और हरड़ को पानी में खूब देर तक उबालकर कवाथ (काढ़ा) बनाकर थोड़ा-सा सेंधा नमक मिलाकर पिने से अजीर्ण में बहुत फायदा होता है |

#3. लौंग को पानी के साथ पीसकर सिर और कनपटियों पर लेप करने से स्नायविक (मस्तक शूल) ख़त्म होता है |
बस व रेल के लम्बे सफर में जी मचलने व उलटी होने की स्थिति में लौंग मुंह में रखकर चूसने से बहुत फायदा होता है |

#4. लौंग (clove) को 200 ग्राम पानी में देर तक उबालें | 50 ग्राम पानी बाकी रह जाने पर उसे छानकर पिने से वायु विकार (गैस) और पेट दर्द खत्म हो जाता है |

#5. लौंग के तेल की सिर पर मालिश करने से सिरदर्द ख़त्म हो जाता है |

#6. लौंग और हल्दी को पिसकर लगाने से नासूर में बहुत फायदा होता है |

#7. लौंग को जल में उबालकर, छानकर थोड़ा-थोड़ा पानी पिलाने से हैजे की विकृति में उलटी का प्रकोप शांत होता है | मूत्र अधिक निष्कासित होता है | -laung ke achuk benefits.

laung khane ke fayde labh benefits

#8. लौंग को आग पर भूनकर, कूट-पीसकर चूर्ण बनाकर मधु मिलाकर चटाने से कुक्कुर (काली) खांसी में बहुत लाभ होता है |

#9. शरीर के किसी भी भाग पर शोध होने पर लौंग का तेल मलने से भी चमत्कारी लाभ होता है |

#10. लौंग को मुंह में रख कर उसका रस चूसने से खांसी ख़त्म होती है | जब तक मुंह में लोंग रहती है तब तक खांसी बंद ही रहती है |

#11. लौंग को मुंह में रख कर चूसने से मुंह और श्वास की बदबू दूर हो जाती है | clove remedies in hindi

#12. लौंग के तेल की कुछ बुंदे किसी स्वच्छ कपडे के टुकड़े पर टपकाकर, उस कपडे को बार-बार सूंघने से प्रतिषय (जुकाम) की समस्या ठीक हो जाता है साथ ही नाक भी बंद नहीं होती है, और नाक अगर बंद हो तो खुल जाती है |

#13. लौंग को पानी के साथ पीसकर 100 ग्राम पानी में मिलाकर, छानकर मिश्री मिलाकर पिने से ह्रदय की जलन विकृति दूर होती है | पेट में जलन होना बंद हो जाती है | Laung ke achhe fayde

#14. वात विकार व सन्धिशुल (जोड़ों के दर्द) में लौंग का तेल मलने से पीड़ा ख़त्म होती है |

#15. लौंग को पानी के साथ पीसकर हलके गर्म पानी में मिलाकर पिने से जी मचलना बंद हो जाता है और ज्यादा प्यास लगना भी बंद हो जाती है |

#16. लौंग के तेल की एक दो बुंदे बताशे पर डालकर खाने से हैजे की विकृति दूर हो जाती है |

#17. लौंग को बकरी के दूध में घीसकर, नेत्रों में काजल की तरह लगाने से रतोंधी रोग ठीक हो जाता है |

#18. लौंग और चिरायता दोनों बराबर मात्रा में पानी के साथ पीसकर पिलाने से बुखार (ज्वर) ख़त्म हो जाता है |

#19. एक रत्ती लौंग को पीसकर, मिश्री की चाशनी में मिलाकर चाटकर खिलाने से गर्भवती स्त्री की उल्टियां बंद हो जाती है |

लौंग जीवनी शक्ति के कोशो का पोषण करता है | इसी कारण लौंग टी.बी और बुखार में एंटीबायोटिक का काम करता है | यह रक्तशोधक और कीटाणुनाशक होता है | लौंग में मुंह, आते और आमाशय में रहने वाले सूक्ष्म कीटाणुओं व सड़न को रोकने के गुण पाये जाते है |

loading...
error: Please Share This but dont Copy & Paste.